विषाक्त भोजन खाने से भाई-बहन की मौत

WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 10.36.56 AM

रायबरेली (आरएनएस)। जगतपुर कोतवाली क्षेत्र के छीछेमऊ गांव में मामा के घर आए भांजे और भांजी की हालत बिगड़ी परिजनों द्वारा सीएचसी लाया गया लेकिन प्राथमिक उपचार के बाद बालक व बालिका को घर भेज दिया गया तथा घर जाने के बाद रविवार के सुबह 5 बजे दोनों बच्चों की मौत हो गई तथा तीसरी  बहन हालत बिगडऩे पर सीएससी लाया गया जहां पर प्राथमिक उपचार के बाद उसे जिला चिकित्सालय भेजा गया।

अपने भाई को राखी बांधने के लिए गोमती ससुराल कानपुर से छीछेमऊ 3 बच्चों को लेकर आई थी। शनिवार की रात मां गोमती स्वयं बीमार हो गई उल्टी और दस्त होने की वजह से उसकी हालत बिगड़ गई जिसे जगतपुर सीएससी लाया गया सीएससी से प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया घर पहुंचने पर उसकी बड़ी लडक़ी रिमझिम 11 वर्ष आलोक 6 वर्ष को भी उल्टी और दस्त होने लगी मामा सुशील के द्वारा जगतपुर सीएससी लाया गया जहां से उपचार के बाद घर भेजा गया रविवार की सुबह 5:00 बजे दोनों बच्चों की अचानक मौत हो गई। परिवारी जनों द्वारा दोनों मृतकों को गंगा घाट ले जाकर अंतिम संस्कार कर दिया गया।

उधर घर पर छोटी बेटी और मां की तबीयत अचानक बिगड़ गई सौम्या को गांव वालों के द्वारा सीएचसी पहुंचाया गया यहां पर हालत गंभीर होने पर जिला चिकित्सालय भेजा गया मां की हालत बिगडऩे पर सीएचसी के चिकित्सक अनुराग शुक्ला अपनी टीम के साथ गांव पहुंचे और गोमती का इलाज के साथ-साथ गांव के सभी व्यक्तियों की जांच की नानी रामरति का कहना है। कि उल्टी दस्त होने से बेटा और बेटी की मौत हुई है। सीएचसी के अधीक्षक डॉ सत्यपाल सिंह ने बताया है कि मामला फूड प्वाइजनिंग का लगता है। जिसकी वजह से बच्चों की मौत हुई।

शेयर करें
Please Share this page as it is