कपकोट क्षेत्र में बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त

WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM
WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM

बागेश्वर। कपकोट क्षेत्र में भारी बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। क्षेत्र में पूरी रात में रिकार्ड 307.50 मिमी बारिश हुई। इसके चलते कई स्थानों पर भूस्खलन हो रहा है। इससे कई घरों को खतरा पैदा हो गया है। खेत-खलिहान और पैदल रास्ते भी बारिश की भेंट चढ़ गए हैं। कुछ घरों में पानी व मलबा भरने से लोगों का लगातार बारिश के कारण लोग दहशत में हैं। जिले में मौसम विभाग ने दो दिन का रेड अलर्ट घोषित किया था। इसका व्यापक असर दिखा। मंगलवार की शाम से कपकोट क्षेत्र में बारिश शुरू हुई, जो पूरी रात जारी रही। मूसलाधार बारिश से कई गांवों में लोग रात भर सो नहीं सके। वहीं जिले की अन्य तहसीलों में भी रात से बारिश शुरू हो गई। बुधवार को भी पूरा दिन बारिश जारी रही। बारिश से नदी, नाले और गधेरे उफान पर आ गए। सडक़ों और खेतों का पानी लोगों के घरों में घुस गया। मंडलखेत और पोलिंग रोड पर नालियों का पानी और मलबा लोगों के घरों में घुसने से उन्हें परेशानी हुई। कपकोट क्षेत्र में भारी बारिश से पालीडुंगरा के भूपाल राम के मकान में दरार आ गई। इसी वार्ड के भगवत सिंह, भगत राम, नंदन प्रसाद और रमेश प्रसाद के घरों का आंगन भी बारिश की भेंट चढ़ गया। पाकड़ गांव के कविंद्र सिंह के घर का आंगन भी बारिश से टूट गया। इधर खर्ककानातोली गांव में भी बारिश का कहर देखने को मिला। गांव के हीरा सिंह का आंगन पूरा टूट गया। विशन सिंह का आंगन टूटने से मकान को खतरा पैदा हो गया है। धना देवी के घर और शौचालय भी खतरे की जद में आ गए। जीत सिह बोरा के घर में रोड का मलबा घुस गया। कमई देवी के घर को भी रोड के मलबे से नुकसान हुआ है। धन सिंह कोरंगा के घर के पीछे लगातार भूस्खलन हो रहा है। लगातार बारिश और भूस्खलन से ग्रामीण सहमे हुए हैं। इधर नरगढ़ा में भी शेर सिंह के घर का आंगन टूट गया। लगातार बारिश जारी रहने से लोगों की परेशानी भी बढ़ती जा रही है। दुग नाकुरी में मकान ढहा, बालबाल बचा परिवारबागेश्वर। दुग नाकुरी तहसील में भी मंगलवार से लगातार बारिश हो रही है। भारी बारिश के कारण मोटर मार्ग और पैदल रास्ते टूट गए हैं। घरों को भी नुकसान पहुंचा है। बारिश से किड़ई गांव के किशन राम के मकान की दीवार ढह गई। गनीमत रही कि हादसे के समय परिवार घर के किचन में था। प्रशासन ने मौका मुआयना कर नुकसान का जायजा लिया। प्रभावित परिवार के सभी पांच सदस्यों को फकीर राम के मकान में शिफ्ट किया गया है।

शेयर करें

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Share this page as it is