अभद्र टिप्पणी के विरोध में हाईवे पर किया चक्का जाम

WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM
WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM

ऋषिकेश। अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर सोशल मीडिया पर अभद्र टिप्पणी से लोगों में उबाल है। बुधवार को नाराज लोगों ने रायवाला में हरिद्वार हाईवे पर प्रदर्शन कर चक्का जाम लगाया। आक्रोशित लोग अभद्र टिप्पणी करने वाले के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार करने की मांग पर अड़े रहे। करीब साढ़े चार घंटे चले हंगामे के बाद पुलिस के मुकदमा दर्ज करने के बाद प्रदर्शनकारी शांत हुए। बुधवार सुबह करीब दस बजे विभिन्न संगठनों के लोग बड़ी संख्या में रायवाला थाने पहुंचे और हाईवे पर जाम लगाकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने आरएसएस नेता के सोशल मीडिया पर अंकिता प्रकरण में अभद्र टिप्पणी को लेकर कड़ी नाराजगी जताई। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि पूरा उत्तराखंड इस जघन्य अपराध से शर्मसार है। हर उत्तराखंडी में आक्रोश है। ऐसे में आरएसएस नेता का यह बयान निंदनीय है। इसलिये मामले में मुकदमा दर्ज होना चाहिए। हाईवे बाधित होने एवं लगातार भीड़ बढ़ने पर पुलिस के हाथ-पांव फूल गये। आसपास की थाना पुलिस के साथ पीएसी भी बुला ली गई। जबकि आरएसएस नेता के घर पर सुरक्षा बढ़ा दी गई। इस दौरान प्रदर्शनकारियों एवं पुलिस के बीच तीखी नोक-झोंक भी हुई। प्रदर्शनकारी आरएसएस नेता को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे। करीब चार घंटे से अधिक समय तक चले बवाल के बाद सीओ ऋषिकेश डीसी ढौडियाल ने मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिये। इसके बाद प्रदर्शनकारी माने। प्रदर्शकारियों में विजयपाल रावत, देवेंद्र रावत, देवी प्रसाद व्यास, सोहन सिंह रौतेला, रमन रांगड़, जगदीश प्रसाद , विवेक रावत, नरेंद्र रावत, राजेन्द्र गैरोला, सतीश रावत, रतनमणि, अंशुल त्यागी, देवेंद्र बेलवाल, अलका क्षेत्री, मुकेश पांडेय, मोहन सिंह असवाल, गोकुल रमोला,शांति प्रसाद थपलियाल, प्रवीण रावत, कुंवर सिंह नेगी, मोहन सती आदि शामिल रहे। ज्ञात हो कि बीते रोज भी नाराज विभिन्न संगठनों के लोगों ने रायवाला, ऋषिकेश एवं मुनिकीरेती थाने में तहरीर देकर मुकदमा दर्ज करने की मांग की थी।

शेयर करें
Please Share this page as it is