प्रदेश में 5 अगस्त के बाद एक बार फिर भारी बारिश की संभावना

WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM
WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM

देहरादून । उत्तराखंड में हो रही बारिश से सडक़ों के बंद होने का सिलसिला थम नहीं रहा है। आए दिन नई सडक़ बंद हो रही है जिससे लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। खासकर पर्वतीय क्षेत्रों के दुर्गम इलाकों में लोगों को भारी दिक्कतें उठानी पड़ रही हैं। लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने बताया कि रविवार को पूरे राज्य में 91 नई सडक़ें बंद हुई। जिससे कुल बंद सडक़ों की संख्या 273 हो गई। लेकिन रविवार देर सांय तक 115 सडक़ों को यातायात के लिए खोल दिया गया। जिससे अब कुल बंद सडक़ों की संख्या 158 रह गई है। लोक निर्माण विभाग के प्रमुख अभियंता हरिओम शर्मा ने बताया कि राज्य में कुल बंद सडक़ों में से 82 लोनिवि की जबकि 76 पीएमजीएसवाई की हैं। उन्होंने कहा कि प्रमुख सडक़ों को प्राथमिकता के आधार पर खोलने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि राज्य में दो राष्ट्रीय राजमार्ग, नौ स्टेट हाईवे और छह जिला मार्ग बंद हैं। सभी डिविजनों को सडक़ों को खोलने का काम प्राथमिकता के आधार पर करने को कहा गया है। उन्होंने बताया कि सडक़ों को खोलने के लिए 294 जेसीबी और पोकलैंड मशीनें लगाई गई हैं।
5 और 6 अगस्त को भारी बारिश की संभावना
प्रदेश में 5 अगस्त के बाद एक बार फिर भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने 5 और 6 अगस्त को पहाड़ी जिलों में भारी बारिश की संभावना जतायी है। जबकि प्रदेश में अगले तीन-चार दिन तक बारिश का सिलसिला बरकरार रहेगा। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार 3 और 4 अगस्त को प्रदेश मे कई जगह बारिश की संभावना है। वहीं 4 और 6 अगस्त को प्रदेश के सभी जिलों में अधिकांश जगह बारिश होगी। पिथौरागढ़, चंपावत, बागेश्वर और नैनीताल जिलों में कहीं-कहीं तीव्र दौर के साथ भारी बारिश होने की संभावना है।

शेयर करें

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Share this page as it is