पौड़ी जिला अस्पताल में अल्ट्रासाउंट सेवा ठप, मरीज परेशान

पौड़ी। जिला अस्पताल में बीते 17 अक्तूबर से अल्ट्रासाउंड सेवा ठप पड़ी हुई है। जिससे स्थानीय मरीजों व यहां दूरदराज से पहुंचने वाले मरीजों को श्रीनगर जाने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। सबसे ज्यादा परेशानियां गर्भवती महिलाओं को उठानी पड़ रही है। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री के गृह जिले में स्वास्थ्य सेवा की लचर व्यवस्था को लेकर स्थानीय लोगों ने सवाल उठाए हैं। हालांकि पुरानी मशीन से सामान्य अल्ट्रासाउंड किए जा रहे हैं। पौड़ी के जिला अस्पताल का संचालन पीपीपी मोड के तहत महंत इंद्रेश अस्पताल देहरादून द्वारा किया जा रहा है। अस्पताल में इन दिनों अल्ट्रासाउंड मशीन खराब होने के चलते मरीजो को परेशानियों से दो-चार होना पड़ रहा है। अस्पताल में प्रतिदिन 30 से 50 अल्ट्रासाउंड किए जाते हैं, लेकिन बीते 17 अक्तूबर से अस्पताल में अल्ट्रासाउंड मशीन खराब चल रही है। जिसके चलते मरीजो को बेहतर अल्ट्रासाउंड सेवा नहीं मिल पा रही है। मरीजो को अल्ट्रासाउंड कराने के लिए श्रीनगर जाना पड़ रहा है। पौड़ी बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक नमन चंदोला ने कहा कि जिला अस्पताल पौड़ी के पीपीपी मोड में संचालन के बाद यहां स्वास्थ्य सेवाएं लचर हो चुकी हैं। स्थानीय विधायक, कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज भी जनता की आवाज से आवाज मिलते हुए पीपीपी मोड पर सरकार से मंथन किए जाने का निवेदन कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि अस्पताल में दो सप्ताह से अल्ट्रासाउंड सेवा ठप पड़ी हुई है, लेकिन प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री चुप हैं। जबकि यह उनका गृह जिला है। कहा गर्भवती महिलाओं को इससे खासी परेशानियां उठानी पड़ रही है। चंदोला ने कहा कि जनता की परेशानियों को दूर किए जाने के लिए जल्द ही अल्ट्रासाउंड सेवा सुचारु की जाय। अस्पताल के पीआरओ प्रमोद चौहान ने बताया कि अस्पताल में दो अल्ट्रासाउंड मशीनें हैं, जिनमें से नई मशीन में तकनीकी खराबी आ गई है। ‌कहा मशीन के पार्ट्स तीन से चार दिनों के भीतर ठीक हो जाएंगे। जिसके बाद सेवा सुचारु कर ली जाएगी। बताया कि पुरानी मशीन से सामान्य अल्ट्रासाउंड किए जा रहे हैं।


शेयर करें