रीसेंट ट्रेंड्स इन सिस्टेमेटिक बायोलॉजी विषय पर एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन हुआ

WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM
WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM

राजकीय महाविद्यालय नागनाथ-पोखरी में वनस्पति विज्ञान विभाग की ओर से गुरुवार को Þरीसेंट ट्रेंड्स इन सिस्टेमेटिक बायोलॉजी (वर्गीकरण विज्ञान की आधुनिक प्रवृत्तियां) विषय पर एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन किया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि मानसरोवर ग्लोबल यूनिवर्सिटी, भोपाल के कुलपति प्रोफेसर अरुण कुमार पांडेय कहा कि प्लांट टेक्सोनोमी प्लांट साइंस के आधारभूत विज्ञान में से है। जिसके बिना प्लांट साइंस के आधुनिक विज्ञान की वैधता नहीं है। क्योंकि आणविक स्तर पर अथवा ड्रग डेवलपमेंट क लिए भी हम तभी काम कर सकते हैं जब हमें किसी पौधे की ठीक-ठीक पहचान हो। अंतरराष्ट्रीय वेबिनार में बतौर मुख्य वक्ता फ्लोरिडा म्यूजियम ऑफ नेचुरल हिस्ट्री एवं जीव विज्ञान विभाग के प्रतिष्ठित ख्यातिप्राप्त प्रोफेसर डगलस एडवर्ड सोल्टिस ने जीवन इतिहास के वंशगत वृक्ष निर्माण के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि सर्वप्रथम चार्ल्स डाॢवन ने इस प्रकार के कार्य में रुचि दिखाई थी , तब से अब तक बहुत से जीवों के वंशगत इतिहास का अलग-अलग अध्ययन किया जा चुका है। परन्तु एक साथ एकीकृत डाटा, जो सभी प्लांट्स के इतिहास को एक साथ प्रर्दिशत करे, अब तक उपलब्ध नहीं है। इस दौरान बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी के वनस्पति विज्ञान के प्रोफेसर एनके दुबे, राष्ट्रीय वनस्पति अनुसंधान संस्थान लखनऊ के वरिष्ठ प्रधान वैज्ञानिक डॉ. तारिक हुसैन, प्रसिद्ध लाइकेनोलॉजिस्ट डॉ. संजीवा नायका, एवं डॉ. प्रियंका अग्निहोत्री, महाविद्यालय के वरिष्ठ प्राध्यापक डॉ महेंद्र सिंह चौहान , डॉ. कंचन सहगल , डॉ. अनिल कुमार , डा.ॅ हरिओम, डॉ. रेनू, डॉ. अंजलि रावत, डॉ. उपेंद्र सिंह चौहान , डॉ. आरती रावत, डॉ. नन्द किशोर चमोला आदि ने भी विचार रखे । वेबिनार के आयोजक वनस्पति विज्ञान के प्राध्यापक एवं विभागाध्यक्ष डॉ. अभय कुमार श्रीवास्तव रहे।

शेयर करें

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Share this page as it is