कर्मचारियों की तुलना गधे से करने पर जताया रोष

पिथौरागढ़। उत्तरांचल फेडरेशन ऑफ मिनिस्ट्रयल सर्विसेज एसोसिएशन ने कर्मचारियों की तुलना गधे से करने पर ऐतराज जताया है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड राज्य निर्माण में कर्मचारियों का अहम योगदान है, अगर कर्मचारियों ने बलिदान नहीं दिया होता तो आज न वो विधायक होते न मंत्री। गुरुवार को मंडल महामंत्री सौरभ चंद और जिला महामंत्री विजेंद्र लुंठी के नेतृत्व में कर्मचारियों ने गलत बयानबाजी करने पर कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल के खिलाफ प्रदर्शन किया। कहा कि राज्य गठन के समय अपनी अहम भूमिका निभाने वाले कर्मचारियों के खिलाफ आज जिस तरह की बयानबाजी की जा रही है, वह गलत है। उन्होंने कहा कि कोविड काल में जब लोगों का घर से निकलना मुश्किल हो गया था, तब कर्मचारियों ने अपनी जान जोखिम में डालकर सभी कामकाज निपटाए थे। विकास कार्यों का खाका भी कर्मचारियों द्वारा ही तैयार किया जाता है। कर्मचारियों की तुलना गधे से कर उनका मनोबल तोड़ने का काम किया जा रहा है। यहां राजेंद्र राणा, नवीन पाठक, कैलाश पांडे, धीरेंद्र भंडारी, विक्रम नेगी, प्रेमा पोखरिया, जयंत भट्ट, त्रिभुवन खोलिया, कमलेश, पुष्पा तिवारी, धीरेंद्र, मनोज पटियाल, रोहित उप्रेती, मुकेश उपाध्याय, नारायण बिष्ट, अर्जुन चिराल, प्रह्लाद बिष्ट, कवींद्र सिंह रहे।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!