हॉस्टल के रूम में मेडिकल कॉलेज के स्टूडेंट ने किया सुसाइड, शॉल का फंदा बनाकर लटका

भरतपुर (आरएनएस)। जगन्नाथ पहाडिय़ा मेडिकल कॉलेज में सोमवार को एमबीबीएस फाइनल ईयर के स्टूडेंट ने हॉस्टल के रूम में ही आत्महत्या कर ली। स्टूडेंट का नाम सुरेंद्र रावत है और वह अलवर जिले के बानसूर का रहने वाला है। स्टूडेंट ने दोपहर में करीब 1 बजे फांसी सुसाइड किया। बाकी स्टूडेंट को इस घटना का पता लगा तो वह सुरेंद्र को लेकर तुरंत आरबीएम अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। सुरेंद्र के परिजनों को घटना की सूचना दे दी गई है। वार्डन पीयूष गोस्वामी ने बताया कि स्टूडेंट कमरा नंबर 103 में शॉल के फंदे पर पंखे के कुंडे से लटका हुआ था। बाकी स्टूडेंट ने उसे देखा तो खिडक़ी तोडक़र उसे रेस्क्यू किया। जब उसे नीचे उतारा तो उसकी सांसें चल रही थी, तुरंत आरबीएम अस्पताल लेकर गए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। 2018 में चयन के बाद लिया एडिमशन सुरेंद्र ने साल 2018 में भरतपुर मेडिकल कॉलेज में एडमिशन लिया था। उसके पिता भरतपुर आए हुए थे। जो 10 दिसंबर को अपने घर चले गए। बताया जा रहा है सुबह तक सुरेंद्र बिल्कुल ठीक था सभी से मजाक कर रहा था। आज उसका पीडियाट्रिक्स का प्रैक्टिकल था। सुरेंद्र प्रेक्टिकल देकर अपने कमरे में आ गया था।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!