हरीश रावत के नेतृत्व में चल रहा धरना-प्रदर्शन समाप्त

रुड़की। इकबालपुर शुगर मिल के मुख्य गेट पर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के नेतृत्व में कांग्रेस के विधायकों और किसानों का धरना-प्रदर्शन दूसरे दिन जारी रहा। सीडीओ प्रतीक जैन शाम को बकाया गन्ना भुगतान के लिए 22. 81 करोड़ रुपये का चेक लेकर धरना स्थल पर पहुंचे। इसके बाद धरना-प्रदर्शन समाप्त किया गया। इकबालपुर मिल पर पेराई सत्र 2017-18 का 2.46 करोड़ और 2018-19 का 108 करोड़ रुपये का बकाया गन्ना भुगतान है। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने मंगलवार से चौबीस घंटे का धरना मिल में शुरू किया था। लेकिन यह धरना चौबीस घंटे बाद भी जारी रहा। सीडीओ प्रतीक जैन शाम करीब चार बजे धरना स्थल पर पहुंचे। उन्होंने मिल की ओर से दिया गया 22.81 करोड़ का बकाया गन्ना भुगतान का चेक दिया। सीडीओ ने कहा कि एक हफ्ते में किसानों का बकाया गन्ना भुगतान उनके खातों में पहुंच जाएगा। पूर्व मुख्मंत्री ने चेतावनी दी कि यदि बचा गन्ना भुगतान भी जल्द ही नहीं हुआ तो फिर धरना प्रदर्शन किया जाएगा। शाम करीब साढ़े चार बजे धरना प्रदर्शन समाप्त करने की घोषणा कर दी गई।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!