हनोल महासू जागड़ा मेला राज्यस्तरीय राजकीय मेला घोषित

S. N. Pandey Rent 2
Property Dealer Haldwani 2
WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM

विकासनगर। धर्मस्व एवं पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने हनोल महासू देवता मंदिर जागाड़ा मेले को राज्यस्तरीय राजकीय मेला घोषित किया है। कैबिनेट मंत्री महाराज ने कहा कि जौनसार बावर से लेकर यमुना घाटी और हिमाचल के लोगों के आराध्य देव हैं। कहा कि हमें गर्व है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी महासू मंदिर का मन की बात में उल्लेखकर जौनसार बावर ही नहीं उत्तराखंड की जनता को भी गौरवान्वित किया है। कहा कि ऐसे आराध्य देव महासू मंदिर को राज्य सरकार राजकीय मेला घोषित कर मेले में सारी सुविधाएं उपलब्ध कराई जायेंगी। शुक्रवार को जागड़ा पर्व की तैयारियों को लेकर हनोल महासू मंदिर में आयोजित बैठक में शिरकत करने पहुंचे धर्मस्व एवं पर्यटन मंत्री को मंदिर समिति की ओर से एक मांग पत्र सौंपा गया। मांग पत्र में हनोल महासू मंदिर में अगस्त माह के अंतिम सप्ताह आयोजित जागड़ा मेला को भव्य स्वरूप देने की मांग की। इस पर पर्यटन एवं धर्मस्व मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि मेले को धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाया जायेगा। सतपाल महाराज ने संस्कृति धर्मस्व सचिव हरी चन्द्र सेमवाल को हनोल से फोन पर निर्देश देकर महासू मंदिर हनोल का जागड़ा मेला राज्यस्तरीय करने की घोषणा की। इस अवसर पर उन्होंने समिति, देव कारिन्दों, क्षेत्र वासियों को राज्यस्तरीय मेला घोषणा होने पर बधाई दी। पर्यटन मंत्री ने जिला पर्यटन अधिकारी को मेले में मोबाइल टायलेट लगाने, ऊर्जा निगम को बेहतर पथ प्रकाश व्यवस्था टीआरएच से ठडियार पुल, पूरे हनोल गांव को रोशनी से चमकाने के निर्देश दिए। थानाध्यक्ष को यातायात ट्रैफिक व कानून व्यवस्था पर एक सप्ताह में पूरा प्लान बनाने के निर्देश दिये। स्वास्थ्य विभाग को विशेषज्ञ चिकित्सक टीम, मोबाइल यूनिट पर्याप्त, दवाई स्टाफ के साथ मेले कैम्प लगाने के निर्देश दिए। एआरटीओ को मेले मे ओवर लोडिंग रोकने, मेले में यात्रियों के लिए बस, टैक्सी वाहन संचालन के निर्देश दिए। मंदिर समिति को मेले के दिन स्वादिष्ट भोजन भणडारे की व्यवस्था को कहा। लोनिवि पीएमजीएसवाई, एनएच, आरईएस के अधिकारियों को त्यूणी- चकराता, जेपीआरआर, त्यूणी- मोरी- चातरा-ब्यूलाड मार्गों की साफ सफाई के निर्देश दिये। बैठक में जल संस्थान के अधिकारियों के न पहुंचने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए एसडीएम को कार्रवाई के निर्देश दिए। बैठक मे अनुसूचित जनजाति आयोग अध्यक्ष मूरतराम शर्मा ने मंदिर समिति की बैठक हनोल में करने के निर्देश एसडीएम को दिये। उन्होंने जागड़ा पर्व सभी लोगों के सहयोग से भव्य आयोजन की अपील की। शर्मा ने ट्रैफिक पर विशेष ध्यान केंद्रित करने को कहा।

शेयर करें
Please Share this page as it is