दून में चक्का जाम के चलते लोग रहे परेशान

WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM
WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM

ऑटोमेटिक फिटनेस में छूट नहीं मिलने से कॉमर्शियल वाहन संचालक  नाराज
सभी जिलों में फिटनेस केंद्र नहीं खुलने तक फिटनेस की पुरानी व्यवस्था बहाल करने की मांग की

देहरादून। दून में आज बस, टैक्सी-मैक्सी कैब, ऑटो, मैजिक, ई-रिक्शा, ट्रक और लोडर नहीं चलने से लोगों को मुश्किलें उठानी पड़ रही हैं। विक्रम और स्कूल वैन संचालकों के भाजपा समर्थित धड़े को छोड़कर बाकी संचालक भी चक्का जाम में शामिल हैं। सुबह से लोगों को परेशानी उठानी पड़ रही है। सवारी वाहन नहीं मिलने पर पैदल जाना पड़ रहा है। ऑटोमेटिक फिटनेस से छूट नहीं मिलने से कॉमर्शियल वाहन संचालकों में नाराजगी है। साथ ही पेट्रोल और डीजल वाले वाहनों को बाहर करने का फैसला वापस लेने की मांग की जा रही है। उत्तराखंड विक्रम ऑटो रिक्शा परिवहन महासंघ के महामंत्री इंद्रजीत कुकरेजा ने बताया कि चार सूत्री मांगों को लेकर मंगलवार को हड़ताल है। सिटी बस महासंघ अध्यक्ष विजय वर्धन डंडरियाल ने बताया कि उत्तराखंड में परिवहन विभाग ने प्राइवेट कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए तय तिथि से पहले ही डोईवाला के लालतप्पड़ में ऑटोमेटिक फिटनेस शुरू करवा दिया है। जब तक सभी जिलों के फिटनेस केंद्र नहीं खुल जाते तब तक फिटनेस की पुरानी व्यवस्था को बहाल किया जाए। दून ऑटो रिक्शा यूनियन अध्यक्ष पंकज अरोड़ा ने कहा कि आरटीए ने हाल में ही दस साल या इससे अधिक पुराने डीजल-पेट्रोल के ऑटो-विक्रम को मार्च 2023 और बाकी वाहनों को एक दिसंबर 2023 तक सड़क से बाहर करने का फैसला लिया है। इसका वह विरोध कर रहे हैं। चक्का जाम में शामिल हैं। देहरादून ट्रक ऑपरेटर एसोसिएशन के सचिव अशोक ग्रोवर ने बताया कि करीब दस हजार ट्रक और लोडरों का संचालन ठप रहेगा। देहरादून टैक्सी ऑनर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी खलिक अहमद ने बताया कि करीब 600 टैक्सी कैब का संचालन ठप है। इसी तरह 400 मैजिक भी संचालित नहीं होंगे। दून-गढ़वाल जीप कमांडर एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय चौहान पहाड़ के लिए संचालित करीब 450 सूमो, मैक्स, ट्रैकर आदि नहीं चलेंगी।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष से मिले परिवहन कारोबारी, मांगा समर्थन
उत्तराखंड विक्रम, ऑटो रिक्शा परिवहन महासंघ देहरादून के पदाधिकारियों ने मंगलवार को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा से मुलाकात की। अपनी मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा। मांग उठाई कि उत्तराखण्ड के प्रत्येक जिले में दो से तीन फिटनेस सेंटर खोले जाएं, तब तक पुरानी व्यवस्था बहाल हो। करन माहरा ने कहा कि सरकार को इनकी न्याय संगत मांगों को और बातों को सुनना चाहिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का वाहन चालकों को समर्थन रहेगा। प्रतिनिधिमंडल में सिटी बस महानगर देहरादून के अध्यक्ष विजय वर्धन डंडरियाल, उत्तराखंड विक्रम, ऑटो रिक्शा परिवहन महासंघ देहरादून के महामंत्री इंदरजीत कुकरेजा, ऑटो रिक्शा यूनियन के अध्यक्ष पंकज अरोड़ा, ऑटो रिक्शा यूनियन के पूर्व अध्यक्ष राम सिंह, देहरादून विकास नगर धर्मावाला बस यूनियन के अध्यक्ष धर्म सिंह राणा, देहरादून विकास नगर यूनियन अद्ज्ञाक्ष सौरभ शर्मा, बिष्ट गांव टाटा मैजिक यूनियन अध्यक्ष गणेश बाबू आदि मौजूद रहे।

शेयर करें
Please Share this page as it is