लोकसभा चुनाव पास आते ही बढ़ा त्रिवेंद्र सिंह रावत का गैरसैंण प्रेम: बिट्टू कर्नाटक

अल्मोड़ा। पूर्व दर्जा मंत्री एवं वरिष्ठ उपाध्यक्ष प्रदेश कांग्रेस कमेटी बिट्टू कर्नाटक ने एक बयान जारी कर कहा कि त्रिवेंद्र सिंह रावत का गैरसैंण प्रेम लोकसभा चुनाव के आते ही बहुत बढ़ गया है। श्री कर्नाटक ने कहा कि जहां त्रिवेंद्र सिंह रावत जी अपने मुख्यमंत्री कार्यकाल में बेरोजगार नवयुवकों, महिलाओं, पर्वतीय क्षेत्र के जनपदों विशेष तौर पर गैरसैंण मुद्दे पर कभी भी मुखर नहीं हो पाए थे वह आज लोकसभा चुनाव के आते ही इस प्रकार की बातें कर रहे हैं कि उन्होंने गैरसैंण को स्थाई राजधानी बना दिया हो, श्री कर्नाटक ने कहा कि अपने मुख्यमंत्री कार्यकाल के दौरान उन्होंने लगातार पर्वतीय क्षेत्र के युवाओं, महिलाओं का अपमान करने का काम किया किंतु आज वर्तमान समय में अब वह दार्शनिक बन कर इस प्रकार का भ्रामक प्रचार कर रहे हैं जैसे कि उन्होंने अपने कार्यकाल में इस पर्वतीय राज्य के पर्वतीय जनपदों के लिए विशेष पैकेज दिया हो जो अब बन्द हो गया है। उन्होंने कहा कि श्री रावत के कार्यकाल में सबसे ज्यादा पर्वतीय जनपदों के लोगों का उत्पीड़न व शोषण हुआ। राजनीतिक महत्वकांक्षा को पूरा करने के लिए अब वह बयानबाजी कर रहे हैं।
श्री कर्नाटक ने कहा कि पौड़ी लोकसभा सीट के चलते अब वह गैरसैंण प्रेम दिखा रहे हैं यदि अपने मुख्यमंत्री रहते हुए उन्होंने गैरसैण के विकास के लिए कोई विशेष योजना या विशेष बजट का प्रावधान किया हो तो वह जनता को बताएं। उन्होंने कहा कि यदि श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मुख्यमंत्री रहते हुए राज्य की जनता के लिए कुछ विशेष किया होता तो वह प्रदेश का कायाकल्प कर सकते थे। अपने कार्यकाल के दौरान त्रिवेंद्र सिंह जी के चेलों ने जिस प्रकार की लूट मचाई थी उसे प्रदेश की जनता ने भली-भांति देखा है श्री कर्नाटक ने कहा कि केवल कोरी बयानबाजी से प्रदेश आगे नहीं बढ़ेगा त्रिवेंद्र सिंह जी जैसे लोगों को जनता के बीच में जाकर अपने किए की माफी मांगनी चाहिए।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!