प्रदेश में 720 डॉक्टरों की और होगी भर्ती : सीएम

रुद्रपुर। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा है कि कोरोना संक्रमण के मामलों की रोकथाम के लिए पूरी तरह मुस्तैदी से कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 400 चिकित्सकों की नई नियुक्ति की गई है, वहीं 720 और चिकित्सकों की नियुक्ति की जा रही है। उन्होंने कहा कि कोविड अस्पताल के रूप में चिह्नित किए गए हॉस्पिटल में चिकित्सक समेत सभी स्टाफ अगर सतर्कता के साथ काम करते हुए कोरोना संक्रमण से बचा रहा तो अस्पताल को 50 लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इस संबंध में आदेश कर दिए गए हैं। मुख्यमंत्री रावत ने गुरुवार को पंडित राम सुमेर शुक्ल स्मृति राजकीय मेडिकल कालेज रुद्रपुर में 300 बेडों के कोविड-19 हॅास्पिटल का उद्घाटन किया। वहीं जिले की विभिन्न 31 विकास कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण किया। इसके बाद समीक्षा बैठक लेने के बाद पत्रकारों से बाचचीत की। सीएम ने कहा कि प्रदेश के अस्पतालों में आईसीयू की संख्या तेजी से बढ़ाई गई है। बजट की कोई कमी नहीं सिर्फ नियोजित ढंग से कार्य करना है। उन्होंने कहा कि जिले के स्तर पर भी जिलाधिकारी और सीएमओ को स्थानीय स्तर पर भर्ती संबंधी अधिकार दिए गए हैं। प्रदेश में वर्तमान में कोविड-19 के इलाज के लिए 26 हजार ट्रिपल सी केस के लिए बेड उपलब्ध हैं, जबकि मरीजों की संख्या अभी इससे काफी कम है। मुख्यमंत्री ने बताया कि कोलकाता-अमृतसर कॉरिडोर प्रदेश से भी गुजरना है। इसके लिए एक हजार एकड़ भूमि की चिह्नित की गई है। वहीं पंत विवि की भूमि पर अंतर्राष्ट्रीय स्तर के ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट का प्रस्ताव पारित हो चुका है। इसके बनने से विकास की कई नई संभावनाएं जगेंगी। उन्होंने कहा कि ग्रोथ सेंटर योजना के तहत लोगों को स्वरोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है। वहीं सीएम ने कलेक्ट्रेट में जिलाधिकारी समेत जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर विकास योजनाओं समेत कोविड-19 के संबंध में किए गए कार्यों की जानकारी ली और विभिन्न दिशा-निर्देश भी दिए। इस दौरान जिले के प्रभारी मंत्री और कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक, दर्जा कैबिनेट मंत्री सुरेश परिहार, भाजपा विधायक राजकुमार ठुक़राल, हरभजन सिंह चीमा, पुष्कर सिंह धामी, जिला पंचायत अध्यक्ष रेनू गंगवार, मेयर रामपाल सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष शिव अरोरा, आयुक्त अरविंद सिंह हयांकी, आईजी कुमाऊं अजय रौतेला, एसएसपी दलीप सिंह कुंवर, निदेशक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डॉ. शैलजा भट्ट, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. डीएस पंचपाल आदि मौजूद रहे।


शेयर करें

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Share this page as it is...!!!!