30 सूत्रीय मांगों को लेकर मजदूर संघ ने दिया धरना

WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM
WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM

बागेश्वर। मजदूर वर्ग को शोषणमुक्त रखने और 30 सूत्रीय मांगों को लेकर भारतीय मजदूर संघ मुखर होने लगा है। अपनी इन मांगों को लेकर उन्होंने कलक्ट्रेट और गरुड़ तहसील में धरना दिया। वक्ताओं ने सरकार और प्रबंधन पर मजदूरों का उत्पीडऩ करने का आरोप लगाया। मजदूरों को शोषणमुक्त होने तक आंदोलन जारी रखने का संकल्प लिया। इसके बाद प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री के नाम का ज्ञापन एडीएम को सौंपा। संघ के अध्यक्ष गणेश सिंह बोरा के नेतृत्व में मजदूर बुधवार को पहले गरुड़ तहसील मुख्यालय पहुंचे। यहां धरना देने के बाद कलक्ट्रेट में गए। यहां उन्होंने धरना शुरू कर दिया। वक्ताओं ने पंजीकृत श्रमिकों को लाभ देने का समय सुनिश्चित करने, राष्ट्रीय पहचान पत्र जारी करने, राशन तथा निवास की सुविधा देने, वेलफेयर वोर्ड में चैयरमैन मजदूर संघ का होने, पर्वतीय क्षेत्र में एक गोल्ड स्टोर बनाने, जंगली जानवरों द्वारा फसलों को नुकसान पहुंचाने पर किसानों को मुआवजा देने, भूमिहीनों को भूमि दिलाने, कोरोना काल में घर-घर खाद्यान्न पहुंचाने वाले ट्रक चालकों व क्लीनरों को कोरोना वॉरियर्स घोषित करने, भ्रष्टाचार में लिप्त कर्मचारी की अचल और चल संपत्ति की नीलामी करने तथा नदी किराने खेती करने वाले किसानों की सुध लेने की मांग की। हर साल पानी के बहाव में किसानों की खेती बह जाती है। इसके बाद उन्होंने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के नाम का ज्ञापन एडीएम राहुल गोयल को सौंपा। इस मौके पर भुवन चंद्र कैड़ा, शिव चरण बिष्ट, किशन दत्त भट्ट, देवकी देवी, धीरज चंद्र जोशी, कमला राना, रणजीत सिंह, चंदन सिंह बोरा, तारा पाठक, चंपा चिलवाल, रश्मि तिवाड़ी, लक्ष्मी पांडे, ललिता भाकुनी, कविता साह, बबीता गडिय़ा आदि मौजूद रहे।

शेयर करें

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please Share this page as it is