टिहरी बांध प्रभावित ग्रामीणों ने की विस्थापन की मांग

नई टिहरी। टिहरी बांध प्रभावित ग्रामीणों ने विस्थापन की मांग को लेकर डीएम दफ्तर के बाहर सांकेतिक धरना दिया। ग्रामीणों ने डीएम को ज्ञापन सौंपकर उनकी समस्या का निराकरण करने की मांग की है। सोमवार को टिहरी बांध प्रभावित भटकंडा उठड़ और सिल्ला उप्पू के ग्रामीणों ने विस्थापन साथ परिसम्पतियों के भुगतान की मांग को लेकर बांध प्रभावित संघर्ष समिति के अध्यक्ष सोहन सिंह राणा के नेतृत्व में डीएम दफ्तर के बाहर सांकेतिक धरना दिया। बांध प्रभावित संघर्ष समिति अध्यक्ष ने कहा ग्रामीण लंबे समय विस्थापन की मांग करते आ रहे हैं, लेकिन टीएचडीसी और पुनर्वास विभाग ग्रामीणों को गुमराह करने में लगे हैं। उन्होंने कहा कि एक सप्ताह के भीतर ग्रामीणों की समस्या का समाधान नहीं होता है, ग्रामीणों को आंदोलन के लिये बाध्य होना पड़ेगा।
भटकंडा के पूर्व ग्राम प्रधान प्रदीप भट्ट ने कहा कि बीते जनवरी माह में प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने टीएचडीसी और पुनर्वास अधिकारियों के साथ बैठक जल्द प्रभावित ग्रामीणों के विस्थापन की प्रक्रिया पूरी करने के अधिकारियों को निर्देश दिये थे, लेकिन तीन माह बीते जाने के बाद भी ग्रामीणों को भुगतान नहीं हो पाया है। कहा ग्रामीणों की ओर लगातार टीएचडीसी और पुनर्वास विभाग को इस संबंध में लिखित और मौखिक रुप से अवगत करवाया जा रहा है, लेकिन प्रभावित की मांगों पर सुनवाई नहीं हो पा रही है।
धरने पर बैठने वालों में संजय भट्ट, चिंतामणी भट्ट, जबर सिंह रावत, मोहन लाल, रमेश चंद्र भट्ट, विजय राम आदि मौजूद थे।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!