पुरानी वस्तुओं से आकर्षक और उपयोगी वस्तु बनाने की सिखाई कला

विकासनगर। श्री गुलाब सिंह राजकीय महाविद्यालय चकराता में राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्वावधान में पर्यावरण संरक्षण के उद्देश्य से पुरानी व अनुपयोगी वस्तुओं से आकर्षक और उपयोगी वस्तुएं बनानी सिखाई गई। मंगलवार को राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी डा.सुमेर चंद ने सिंगल यूज प्लास्टिक उन्मूलन के तहत आकर्षक फूल बनाने का प्रशिक्षण दिया। कांच की पुरानी बोतलों से सुंदर फ्लावर पॉट बनाने सिखाये गये। प्राचार्य प्रोफेसर केएल तलवाड़ ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि सिंगल यूज प्लास्टिक हर तरह से पर्यावरण व जनजीवन के लिए हानिकारक है। एनएसएस के स्वयंसेवी अपने छोटे-छोटे प्रयासों से आमजनमानस को पर्यावरण संरक्षण का संदेश दे सकते हैं। प्रशिक्षण प्राप्त करने वालों में बनीता, रितिका, हिमांशी, तनु, अंशिता व अंकित आदि सम्मिलित रहे।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!