पूर्व राज्यमंत्री पर ड्राइवर ने लगाए कुकर्म के प्रयास के आरोप

हरिद्वार। पूर्व राज्यमंत्री विनोद आर्य पर उनके वाहन चालक द्वारा लगाए गए गंभीर आरोपों में ज्वालापुर कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। पुलकित आर्य के पिता और पूर्व राज्यमंत्री विनोद आर्य पर उसी के ड्राइवर ने कुकर्म के प्रयास के गंभीर आरोप लगाए हैं।

बेटा पुलकित आर्य अंकिता हत्याकांड के आरोप में जेल की हवा खा रहा है, वहीं अब विनोद आर्य पर 25 साल के युवा ने कुकर्म करने के प्रयास के गंभीर आरोप लगाए हैं।
रोहन कांबोज जिला सहारनपुर का रहने वाला है। जिसने ओएलएक्स वेबसाइट पर पढ़ा कि डॉ विनोद आर्य को ड्राइवर की जरूरत है। जिसके बाद रोहन ने डॉ विनोद आर्य से संपर्क किया, जिसके बाद उन्होंने रोहन को 10,000 रूपये सैलरी पर ड्राइवर रख लिया।
ड्राइवर रोहन ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि डॉ विनोद आर्य ने उसे ज्वालापुर आर्य नगर में रहने के लिए कमरा दे दिया गया।
ड्राइवर रोहन ने बताया कि विनोद आर्य रात के समय उसको अपने पास बुलाता था और अपने शरीर की मालिश करने, मसाज करने और पैर दबाने के लिए कहता था वहीं अश्लील हरकतें भी करता था।
कुछ दिन पहले ही रात को 10 :30 बजे डॉक्टर विनोद आर्य ने उसे मालिश और मसाज़ करने के लिए बुलाया और मसाज के दौरान डॉ विनोद आर्य ने उसके साथ कुकर्म करने का प्रयास किया। जिसके बाद युवक डरकर अपने घर छुटमलपुर चला गया, इसी बीच जैसे ही वो मोटरसाइकिल से घर का सामान लेने बाजार गया था तो बाजार में अपाचे मोटरसाइकिल पर बैठे तीन लोगों में से एक ने कहा कि यही रोहन कांबोज है और उसके बाद उन्होंने गाड़ी में जबरदस्त टक्कर मारी, जिससे रोहन नीचे गिर गया और उसका सिर फट गया और हाथ टूट गया।
रोहन को घायल अवस्था में सरकारी अस्पताल फतेहपुर ले जाया गया, इस घटना की तहरीर थाना फतेहपुर में थाने को अज्ञात व्यक्ति के विरुद्ध और पुलिस को पूरा घटनाक्रम बताया और कहा कि मुझे शक है कि मेरा एक्सीडेंट डॉ विनोद आर्य पूर्व राज्य मंत्री उत्तराखंड ज्वालापुर वालों ने कराया है। मुझे आगे भी विनोद आर्य से अपनी जान का खतरा है। ज़ब कोई कार्यवाही नही हुई तो युवक ने न्यायालय की शरण ले ली, जिसके बाद न्यायालय ने इस मामले में जाँच के आदेश दे दिए हैं।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!