पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह की बहू अनुकृति भाजपा में शामिल

देहरादून(आरएनएस)। प्रवर्तन निदेशालय की जांच का सामना कर रहीं पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत की बहू अनुकृति गुसाईं रविवार को भाजपा में शामिल हो गईं। उनके साथ ही यूएसनगर जिला पंचायत अध्यक्ष रेणू गंगवार ने भी अपने पति सुरेश गंगवार के साथ भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। भाजपा अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने कहा कि आने वाले दिनों में सदस्यता अभियान और तेज होगा।  भाजपा मुख्यालय में अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने तीनों लोगों को भाजपा की सदस्यता दिलाई। महेंद्र भट्ट ने भाजपा में आने वाले नेताओं पर लगे आरोपों, ईडी की जांच पर कहा कि जब तक दोष सिद्ध नहीं हो जाता, कोई दोषी नहीं है। जांच अपनी जगह लगातार जारी है। यदि भविष्य में किसी पर कोई दोष सिद्ध होता है, तो उन्हें पार्टी से बाहर कर दिया जाएगा। हरक सिंह रावत की ज्वाइनिंग को लेकर कहा कि उन्होंने अभी तक पार्टी से किसी भी तरह का कोई सम्पर्क नहीं किया है। अभी तक भाजपा में जो भी ज्वाइनिंग हुई हैं, वे सभी राष्ट्रीय संयोजक अनुराग ठाकुर के अनुमोदन के बाद ही हुई हैं। कहा कि आने वाले दिनों में नगर निकाय और पंचायत चुनाव हैं। ऐसे में सदस्यता अभियान और तेजी से जारी रहेगा। ये अभियान कांग्रेस मुक्त भारत तक जारी रहेगा। कांग्रेस छोड़ भाजपा में आए सुरेश गंगवार ने इसे अपनी घर वापसी बताया। कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रभावित होकर ही वे भाजपा ज्वाइन कर रहे हैं।

जब मैं परेशान नहीं, तो दिलीप क्यों होंगे
लैंसडोन से कांग्रेस के टिकट पर 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ चुकी अनुकृति गुसाईं के भाजपा ज्वाइन करने से भाजपा विधायक दिलीप रावत की नाराजगी के सवाल पर अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने जवाब दिया। कहा कि जब मैं बदरीनाथ सीट पर राजेंद्र भंडारी के भाजपा ज्वाइन करने से परेशान नहीं हुआ, तो दिलीप रावत क्यों परेशान होंगे। विधायक लैंसडोन दिलीप रावत ने कहा कि पार्टी ने जो भी निर्णय लिया है, वो सोच समझ कर ही लिया होगा। उनकी कोई नाराजगी नहीं है।

पाखरो मामले में मेरे परिवार का नहीं कोई दोष: अनुकृति
भाजपा ज्वाइन करने पर अनुकृति गुसाईं ने पाखरो टाइगर सफारी जांच पर भी सफाई दी। कहा कि पूरे मामले में उनका और उनके परिवार का कोई तकनीकी दोष नहीं है। इस मामले में सीबीआई जांच के आदेश भी हाईकोर्ट के आदेश पर हुए हैं। सीबीआई जांच के अनुसार ही ईडी ने इस केस पर जांच शुरू की है। जो कानूनी प्रक्रिया है, वो पूरी होगी। उन्हें जब भी बुलाया जाएगा, वो जाएंगी। उन्हें कोई डर नहीं है।  अनुकृति ने कहा कि अभी तक किसी को भी दोषी करार नहीं दिया गया है। भाजपा ने भी कोई आरोप नहीं लगाए। जांच भी कोर्ट के आदेश पर ही हो रही है। जांच भी उनके खिलाफ नहीं हो रही है। उनसे सिर्फ पूछताछ हो रही है। उन्होंने किसी भी डर, दबाव के कारण भाजपा ज्वाइन नहीं की है। वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्ट्र और राज्य को सशक्त बनाने की मुहिम से प्रभावित हैं। वे स्वयं स्थानीय उत्पादों को बढ़ाने का काम कर रही है। प्रधानमंत्री भी वोकल फोर लोकल का संदेश दे रहे हैं। कहा कि वो पहली बार भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर रही हैं।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!