मेयर के साथ अभद्रता के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिया नगर निगम में धरना

हरिद्वार। मेयर के साथ दुर्व्यवहार और अभद्रता का आरोप लगाते हुए कांग्रेस पार्षदों और कार्यकर्ताओं ने नगर निगम में प्रदर्शन कर धरना दिया। पूर्व पार्षद अमन गर्ग के संचालन में आयोजित धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए पूर्व पालिका अध्यक्ष सतपाल ब्रह्मचारी ने कहा कि यदि नगर आयुक्त मेयर के साथ दुर्व्यवहार के लिए खेद नहीं प्रकट करते हैं तो कांग्रेस बड़े आंदोलन के लिए बाध्य होगी। श्रमिक नेता मुरली मनोहर ने कहा कि नगर निगम में जनहित के कार्यों को अनदेखा किया जा रहा है। नगर आयुक्त और कुछ भाजपा पार्षदों ने नगर निगम को ठेकेदारी का अड्डा बना दिया है। जिसे कांग्रेस कभी भी बर्दाश्त नहीं करेगी। पार्षद राजीव भार्गव व कांग्रेस अनुसूचित विभाग के जिलाध्यक्ष सुनील कुमार ने कहा कि नगर निगम को भ्रष्टाचार का अड्डा बना दिया गया है। इसका विरोध करने पर मेयर के सम्मान को ठेस पहुंचाई जाती है, जोकि निंदनीय और अशोभनीय है। कांग्रेस कार्यकर्ता इसे कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे। पूर्व सभासद अशोक शर्मा ने कहा कि यूनीपोल में हुए भ्रष्टाचार उजागर करने पर बौखलाहट में मेयर के सम्मान को ठेस पहुंचाने का काम किया जा रहा है। लोकतंत्र की हत्या और एक महिला का अपमान बर्दाश्त करने योग्य नहीं है। पार्षद कैलाश भट्ट और उदयवीर सिंह ने कहा कि यदि मेयर के साथ अभद्रता के लिए माफी नहीं मांगी तो उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होंगे। पूर्व पालिका अध्यक्ष प्रदीप चौधरी और वरिष्ठ नेता संजय पालीवाल ने कहा कि मेयर का अपमान हरिद्वार की जनता का अपमान है। जिसको हरिद्वार की जनता बर्दाश्त करने वाली नहीं है। युवा नेता वरुण बालियान ने कहा कि यदि नगर आयुक्त माफी नहीं मांगते हैं तो हरिद्वार के नौजवान सड़कों पर उतर कर जन आंदोलन करेंगे। प्रदर्शन करने वालों में बलराम गिरी कड़क, विमल साटू, नितिन तेश्वर, पार्षद महावीर वशिष्ठ, मेहरबान खान, शहाबुद्दीन अंसारी, जफर अब्बासी, सुनील कुमार, शुभम जोशी, मधुकांत गिरी, प्रशांत शर्मा, तुषार कपिल, सुरेंद्र सैनी, शुभम अग्रवाल, हरद्वारी लाल, ओम मलिक, नावेज अंसारी, मेहरबान अली सहित कई कार्यकर्ता शामिल रहे।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!