लॉकडाउन के विरोध में व्यापारियों ने मनाया विरोध दिवस

बागेश्वर। सप्ताह में दो दिन लॉकडाउन के फैसले का व्यापारी खुलकर विरोध करने लगे हैं। उन्होंने सरकार के इस निर्णय को जन विरोधी बताते हुए गुरुवार को प्रदेश स्तरीय विरोध दिवस मनाया। उन्होंने लॉकडाउन को औचित्यहीन करार देते हुए कहा कि इससे कोरोना की चैन तोडऩे में मदद नहीं मिल रही है। व्यापारियों ने सरकार से लॉकडाउन के फैसले को वापस लेने की मांग की। गुरुवार को प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल के नगर अध्यक्ष हरीश सोनी के नेतृत्व में व्यापारियों ने डीएम और विधायक के माध्यम से प्रदेश सरकार को ज्ञापन भेजा। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के नाम पर केवल व्यापारियों के हितों को ही प्रभावित किया जा रहा है। कहा कि साप्ताहिक लॉकडाउन में भी बाजारों में चहल-पहल कम नहीं हो रही है। लोग बाजारों में घूम रहे हैं, अन्य बाकी काम भी सुचारू रूप से चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि व्यापारी वर्ग पहले से ही मार्च से शुरू हुए लॉकडाउन के कारण आर्थिक संकट का सामना करना रहा है। ऐसे में इस तरह के औचित्यहीन लॉकउन से उसे बाकी नुकसान उठाना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि अगर सरकार कोरोना की चैन तोडऩे के लिए काम करने तो व्यापारी उनका साथ देंगे। जिसके लिए सरकार को सप्ताह में दो दिन की बजाय 14 दिन का लॉकडाउन करना चाहिए। इस दौरान दवा और दूध आदि जरूरी सेवाओं को छोडक़र बाकी प्रतिष्ठान व कार्यालय पूर्ण रूप से बंद हों और नियमों का सख्ती से पालन कराया जाए। उन्होंने सरकार से प्रदेश में चल रहा सप्ताह के दो दिन का लॉकडाउन जल्द समाप्त करने की मांग की। इस मौके पर जिला महामंत्री अनिल कार्की, नगर संगठन मंत्री किशन सोनी आदि मौजूद रहे।


शेयर करें

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Share this page as it is...!!!!