जनसंपर्क कार्यालय बंद करने पर बीकेटीसी को भेजा कानूनी नोटिस

ऋषिकेश। श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति की ओर से पिछले दिनों तीर्थनगरी ऋषिकेश स्थित प्रचार-जनसंपर्क कार्यालय को बंद कर दिया गया। मामले का संज्ञान लेकर भूमिदान करने वाले भरत मंदिर ट्रस्ट ऋषिकेश ने मंदिर समिति को कानूनी नोटिस जारी कर दिया है। इससे मंदिर समिति में हड़कंप की स्थिति है।
भरत मंदिर ट्रस्ट के महंत वत्सल प्रपन्न शर्मा ने बताया कि ट्रस्ट ने मंदिर समिति को प्रचार-जनसंपर्क कार्यालय हेतु भूमि दान‌ दी हुई है। उन्होंने कहा कि मंदिर समिति भूमिदाता के संकल्प तथा प्रयोजन के अनुसार कार्य नहीं करेगी तो ट्रस्ट यात्रियों की सेवा के लिए उस जमीन पर पुस्तकालय तथा यात्रियों को प्याऊ, विश्राम स्थल बनाये जाने पर विचार करेगा। दान की भूमि का किसी स्तर पर मनमाफिक दुरुपयोग नहीं होने दिया जायेगा। ना ही भू प्रयोजन में किसी बदलाव को भरत मंदिर ट्रस्ट स्वीकार करेगा।
वहीं, मंदिर समिति को प्रचार जनसंपर्क कार्यालय बंद करने पर कानूनी नोटिस दिये जाने का डिमरी धार्मिक केंद्रीय पंचायत के अध्यक्ष विनोद डिमरी, केदार सभा के नव निर्वाचित अध्यक्ष राजकुमार तिवारी, तीर्थ पुरोहित समिति अध्यक्ष महंत विनय सारस्वत, मंदिर समिति के पूर्व सदस्य हरीश डिमरी, मंदिर समिति पूर्व सदस्य दिनकर बाबुलकर आदि ने स्वागत किया है। कहा है कि मंदिर समिति को अपने निर्णय को तत्काल वापस लेना चाहिए।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!