बारिश के बाद सरस मेला फिर हुआ गुलजार

देहरादून। पिछले कुछ दिनों से करवट बदलता मौसम और बे मौसम की बरसात के बाद धूप खिलते ही सरस मेले में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी तो दुकानदारों के चेहरे खिल उठे। कई दिनों बाद गुरुवार को काफी संख्या में लोग मेले में खरीदारी को पहुंचे। करवा चौथा को लेकर बाजार आ रहे लोग मेले का रूख कर रहे हैं । बीते दिनों लगातार बारिश के कारण कम लोग मेले में पहुंच रहे थे । यहां लोग पहाड़ी डाल, ऊनी कपड़े, अचार, सजावट की के सामान की सबसे ज्यादा खरीदारी कर रहे हैं।
इसस पहले बुधवार को रेसकोर्स के बन्नू स्कूल ग्राउंड में चल रहे सरस मेले की सातवीं शाम लोक गायिका संगीता ढौंडियाल के गीतों के नाम रही। इस दौरान सीएम पुष्कर सिंह धामी ने स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को सम्मानित भी किया। बुधवार को सांस्कृतिक संध्या का शुभारंभ सीएम पुष्कर सिंह धामी और तकनीकी शिक्षा मंत्री सुबोध उनियाल ने दीप जलाकर किया। सीएम ने कहा कि इस तरह के मेलों का आयोजन जरूरी है। इससे जहां हमारी सांस्कृतिक विरासत का संरक्षण होता है, वहीं स्वयं सहायता समूहों को भी उत्पाद बेचने के लिए बाजार भी मिलता है। इसके बाद लोक गायिका संगीता ढौंडियाल ने अपनी टीम के साथ ‘नंदा गीत तेरी डोली सजी गई मां से सांस्कृतिक संध्या की शुरुआत की। इसके बाद ‘हाय काखड़ी झिल मा लूण पिसो सिल मा, ‘ढोल दमो बजीगेना, दगड्या की बराती मा, ‘पंडों खेला पासो, ‘तेरी खुट्यों मा लागिनी कुतग्याली और ‘बेड़ो पाको बारामासा… गीत की शानदार प्रस्तुति दी। इस मौके पर सीडीओ झरना कमठान, परियोजना निदेशक आरती तिवारी, डीडीओ सुशील मोहन डोभाल आदि मौजूद रहे।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!