औचक निरीक्षण में लैब संचालक नहीं दिखा पाया रजिस्ट्रेशन

WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM
WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM

रुड़की। मुख्यमंत्री पोर्टल पर एक व्यक्ति की ओर से की गई शिकायत के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कलियर क्षेत्र में चल रही निजी लैब का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान कुछ लैब संचालक लैब बंद कर चले गए। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बेड़पुर चौक, सोहलपुर रोड और धनौरी में चल रही निजी लैब का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कुछ लैब संचालक अपनी लैब बंद कर मौके से चले गए। कलियर में एक निजी लैब खुली मिली। टीम ने लैब संचालक से लैब का रजिस्ट्रेशन समेत अन्य कागजात मांगे। मौके पर संचालक रजिस्ट्रेशन नहीं दिखा पाए। लैब संचालक को रजिस्ट्रेशन, डिग्री और अन्य कागजात पीएचसी इमलीखेड़ा चिकित्सा प्रभारी को दिखाने के लिए कहा गया। रुड़की ब्लॉक के नोडल अधिकारी एवं इमलीखेड़ा चिकित्सा प्रभारी डॉक्टर दिली रमन ने बताया कि एक व्यक्ति ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर शिकायत कर बताया कि हरिद्वार जिले में लगभग 200 पैथोलॉजी लैब फर्जी तरीके से चल रही है। नकली रिपोर्ट बनाकर आमजन के स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रहे हैं। उन्होंने बताया शिकायत के आधार पर सीएमओ के निर्देश पर फार्मासिस्ट ब्रिजेश कुमार, लैब टेक्नीशियन अरविंद सैनी, विजय कुमार के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया और क्षेत्र में चल रही निजी लैब का निरीक्षण किया गया। इस दौरान कुछ लैब संचालक लैब को बंद कर चले गए। कलियर में एक लैब से रजिस्ट्रेशन संबंधी कागजात मांगे गए हैं। जिनकी रिपोर्ट बनाकर उच्च अधिकारियों को भेजी जाएगी। यह अभियान जारी रहेगा।

शेयर करें
Please Share this page as it is