संस्कृत विवि के पास अवैध धार्मिक स्थल हटाए जाने की मांग

हरिद्वार। उत्तराखंड संस्कृत विश्वविद्यालय के छात्र संघ ने डीएम विनय शंकर पांडेय को पत्र भेजकर विवि के पास बने एक अवैध धार्मिक स्थल को हटाए जाने की मांग की है। पहले भी जिला प्रशासन की ओर से विवि के पास एक अवैध धार्मिक स्थल को हटाया जा चुका है। संस्कृत विवि में छात्र संघ के अध्यक्ष सागर खेमरिया ने बताया कि संस्कृत विश्वविद्यालय की चाहरदीवारी के समीप अवैध रूप से एक धार्मिक स्थल बनाया गया है। धार्मिक स्थल पर समय-समय पर लाउड स्पीकर से ध्वनि प्रदूषण किया जाता है। जिससे विश्वविद्यालय में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं के पठन-पाठन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है एवं उस रास्ते से आने-जाने वाले छात्र-छात्राओं में भी असुरक्षा का महौल बन रहा है। इससे पूर्व भी विवि परिसर के समीप सिंचाई विभाग की भूमि पर बने एक अवैध धार्मिक स्थल को प्रशासन ने बलपूर्वक हटा दिया था। डीएम को पत्र भेजने वाले छात्रों में छात्रसंघ के कोषाध्यक्ष अमन दुबे, विश्वविद्यालय प्रतिनिधि मनमोहन शुक्ला, अमन शर्मा, वर्षा चौहान, नेहा पंत, रिया आदि शामिल हैं।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!