रंगदारी मामले में राठी की कोर्ट में हुई पेशी

हरिद्वार। गुरकुल कांगड़ी विवि के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष रविकांत मलिक के भाई से भूखंड के विवाद के नाम पर पचास लाख की रंगदारी मांगने के मामले में सिडकुल पुलिस ने कुख्यात सुनील राठी को जिला जेल से ले जाकर सीजेएम कोर्ट में पेश किया। दोपहर बाद कोर्ट में पेशी के बाद राठी को वापस जेल में शिफ्ट कर दिया गया। वहीं, राठी के गुर्गे सुशील गुज्जर को पुलिस पूर्व में गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। सिडकुल थाने में रविकांत मलिक निवासी बड़ा परिवार गुरुकुल कनखल ने मुकदमा दर्ज कराया था कि नवोदय नगर में उसकी पत्नी के नाम चले आ रहे भूखंड पर कब्जा करने की कोशिश की गई थी। आरोप था कि नीरज मलिक, प्रदीप राठी, रोहताश, विपिन राठी ने उसके भूखंड पर तोड़फोड़ करते हुए सामान चोरी कर लिया था और सुशील गुज्जर ने उसके भाई को कनखल क्षेत्र में मिलकर डराया धमकाया भी था। आरोप था कि राठी ने उसके भाई को कॉल कर पचास लाख की रंगदारी देने की बात कही थी। पुलिस ने वारदात का खुलासा करते हुए राठी के गुर्गे सुशील गुज्जर निवासी निवासी गांव मिरगपुर देवबंद सहारनपुर यूपी को गिरफ्तार करते हुए 45 बोर की एक पिस्टल, दो मैगजीन और 10 जिंदा कारतूस बरामद किए थे। प्रभारी निरीक्षक रमेश तनवार ने बताया कि आरोपी सुनील राठी को जेल से ले जाकर सीजेएम कोर्ट में इस मामले में पेश किया गया, जिसके बाद उसे वापस जेल में शिफ्ट कर दिया गया। मामले की जांच अभी जारी है।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!