ऑर्डनेंस फैक्ट्री देहरादून के कर्मचारियों ने ऑल इंडिया डिफेंस इम्प्लॉइज फेडरेशन के आह्वान पर किया लंच का बायकॉट

WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM
WhatsApp Image 2022-03-27 at 12.38.44 PM

देहरादून। ऑर्डनेंस फैक्ट्री देहरादून के कर्मचारियों ने ऑल इंडिया डिफेंस इंप्लाइज फेडरेशन के आह्वान पर आज दोपहर में लंच का बायकाट किया. केंद्र सरकार द्वारा देश के 41 निर्माणियों का कॉरपोरेशन करने के फैसले के बाद निजीकरण करने की तैयारी है। कॉर्पोरेशन के खिलाफ कर्मचारियों का आक्रोश लंच बाय काट के रूप में सामने आया है 200 साल के इतिहास में यह पहली बार हुआ है जब देश की रक्षा के लिए साजो सामान हथियार बनाने वाली फैक्ट्रियों का निजीकरण किया जा रहा है इसके पहले के चार चार रक्षा मंत्रियों द्वारा फेडरेशन को आश्वासन दिया गया था कि निर्माणों का निजीकरण नहीं करेंगे। लेकिन आज केंद्र में बैठी बी जे पी की सरकार की नजर निर्माणियां की जमीन व कारखानों पर है । निर्माणी के कर्मचारियों ने कारगिल की लड़ाई में दिन रात एक कर के सैनिकों को हथियार मुहैया करवाए थे 1965 का युद्ध हो चाहे 1971 का युद्ध हो, दोनों ही युद्ध मे विजय प्राप्त करने में एक बड़ी भूमिका निभाई थी। आज भी जब कोविड-19 का प्रकोप पूरे देश में था तब निर्माणी कर्मचारियों ने दिन-रात एक करके सैनिटाइजर, मास्क, वेंटिलेटर मशीन का बड़े पैमाने पर निर्माण करके लोकल शासन को उपलब्ध कराए, लेकिन आज कर्मचारी अपने भविष्य को लेकर आशंकित है की सरकार का अगला कदम निर्माणियों का निजीकरण करना होगा। इसके विरोध में ऑर्डनेंस फैक्ट्री देहरादून में भी संयुक्त संघर्ष समिति का गठन किया गया है तथा फेडरेशन के आह्वान पर 4 अगस्त को स्ट्राइक बैलट देने के पश्चात 12 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की तैयारी कर दी गई है। एंप्लाइज यूनियन के महामंत्री अशोक शर्मा ने कहा कि आयुध निर्माणियां के कर्मचारी फेडरेशन के आह्वान पर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने को तैयार हैं। आज के लंच बॉयकॉट में एम्पलॉइज यूनियन के महामंत्री अशोक शर्मा, बी के एस यूनियन के महामंत्री इंदर सिंह आई एन टी यू सी के महामंत्री कलीम अहमद व बी पी एम एस के प्रधान महेंद्र चौहान उपस्थित थे।

शेयर करें
Please Share this page as it is