लालढांग में पारंपरिक तरीके से मनाया गेंदी मेला

हरिद्वार। परम्परागत और लोक संस्कृति के प्रतिक रहे लालढांग के गेंदी मेले का आयोजन कोविड की लहर के अंदेशे के चलते इस बार भी सांकेतिक रहा। सरकार के पूर्वानुमान के कारण आयोजक मंडल ने मेले का भव्य आयोजन स्थगित कर दिया है, लेकिन रीति रिवाज और परम्परा को बनाए रखते हुए रविवार को सांकेतिक गेंद खेल प्रतियोगिता खेली गई। जिसमें विजयी टीम को आयोजक मंडल द्वारा पुरस्कृत किया गया। आयोजक मंडल के अध्यक्ष सूर्याप्रताप सिंह ने बताया कि कोविड 19 की लहर के अंदेशे के कारण इस बार भी गेंदी मेले का भव्य आयोजन नहीं किया जा सका। पिछले तीन वर्षों से कोविड के कारण गेंद प्रतियोगिता मेले का आयोजन नहीं हो पाया है। जिससे स्थानीय जनता मे निराशा भी है, लेकिन कोविड की लहर के पूर्वानुमान के चलते इस बार भी मेला स्थगित किया गया है। जबकि परम्परा और संस्कृति के प्रतीक के रूप मे खेल का आयोजन कर समापन कर दिया गया। कार्यक्रम में सचिव राकेश नेगी, उपाध्यक्ष पंकज चमोली मेला समिति के सदस्य आकाश शर्मा, कमलेश द्विवेदी, मायादार डबराल, दीपक जखमोला, मुकेश नेगी, संजय नेगी, सूरज नेगी, शुभम उपाध्याय, जसपाल नेगी शिवम नाथ रोहित नेगी दिलबर नेगी नरेंद्र गुसाईं संजय बिष्ट एवं क्षेत्र के बहुत से नौजवान उपस्थित रहे।


शेयर करें