हैड़ाखान सड़क को लेकर नेता प्रतिपक्ष ने दिया धरना

हल्द्वानी। काठगोदाम-हैड़ाखान सड़क 23 दिनों से बंद होने के विरोध में नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने मंगलावार को क्षतिग्रस्त हिस्से के पास धरना दिया। साथ ही विभागीय अधिकारियों के साथ सड़क का निरीक्षण किया। वैकल्पिक मार्ग की व्यवस्था और बजट के इंतजाम को लेकर पूछने पर अफसर कुछ स्पष्ट नहीं बता पाए। ऐसे में नेता प्रतिपक्ष ने विभागों की कार्यप्रणाली और सरकार पर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि काठगोदाम-हैड़ाखान सड़क 120 गांव के 50 हजार लोगों की आवाजाही के लिए एक मात्र मार्ग है। सड़क बंद होने की वजह से ग्रामीणों की आवाजाही प्रभावित है। बीमार और गर्भवतियों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। इसके अलावा ग्रामीणों के सामने आजीविका का संकट भी खड़ा हो गया है। तमाम समस्याओं की जानकारी होने के बावजूद भी 23 दिनों से बंद सड़क को लेकर कोई ठोस कार्यवाही न होना ठीक नहीं है। अस्थायी मार्ग बनाने की बात कही जा रही है, लेकिन इससे से भी लोगों को कोई राहत नहीं मिल रही है। नेता प्रतिपक्ष आर्य ने कहा कि जल्द से जल्द वैकल्पिक व्यवस्था कर मार्ग का काम शुरू करवाना चाहिए। लेकिन विभागीय गति से सरकार की इच्छा शक्ति पर सवाल खड़े हो रहे हैं। उन्होंने कहा अगर जल्द मार्ग खोलने की व्यवस्था नहीं हुई तो ग्रामीणों के साथ कांग्रेस कार्यकर्ता आंदोलन करेंगे। इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस महासचिव महेश शर्मा, जिलाध्यक्ष राहुल छिमवाल, पूर्व विधायक दान सिंह भंडारी, सतीश नैनवाल, हरीश बिष्ट, संजय साह, इंदर पाल आर्या, हरेंद्र क्वीरा, उमेश चन्द्र टम्टा, डॉ. केदार पलड़िया, देवेन्द्र चनौतिया, खष्टी बिष्ट, केडी रूबाली आदि मौजूद रहे।


शेयर करें