एफआरआई के वैज्ञानिक के आवास में लाखों की चोरी में आठ महीने बाद मुकदमा

देहरादून। एफआरआई के वैज्ञानिक के सरकारी आवास में लाखों रुपये की चोरी में दून पुलिस ने आठ महीने बाद मुकदमा दर्ज किया है। मुकदमा तब जाकर दर्ज हुआ जब पीड़िता उत्तराखंड पुलिस के डीजीपी अशोक कुमार से मिले। अब केस दर्ज कर इसकी जांच दरोगा दीपक गैरोला को सौंपी गई है। चोरी की वारदात को लेकर एफआरआई परिसर स्थित सरकारी क्वार्टर में रहने वाले पर्यावरण प्रबंधन के वैज्ञानिक चंद्र शर्मा डीजीपी से मिले। उन्होंने कहा कि बीते साल 18 सितंबर से 24 सितंबर के बीच उनका सरकारी आवास बंद रहा। इस दौरान वह परिवार समेत बाहर गए थे। 24 सितंबर को वापस लौटकर देखा तो आवास के ताले टूटे मिले। अंदर से तीन नेकलेस, एक मंगल सूत्र, चार अंगूठी और पांच चूड़ियां चोरी हो गई थी। उन्होंने 26 सितंबर को पंडितवाड़ी चौकी में लिखित तहरीर दी। कहा तब पुलिस ने केस दर्ज नहीं किया। न ही घटना के खुलासे के प्रयास किए गए। डीजीपी ने इस पर संज्ञान लिया और कैंट थाना पुलिस को केस दर्ज करने का आदेश दिया। इंस्पेक्टर कैंट सम्पूर्णानंद गैरोला ने बताया कि अज्ञात चोरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जब वारदात हुई तो इस दौरान वह थाने में तैनात नहीं थे। कहा कि पुलिस चोरों का पता लगाने की कोशिश कर रही है।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!