इज ऑफ डुइंग बिजनेस इज ऑफ लिविंग को लेकर हुई कार्यशाला

चम्पावत। उद्योग विभाग के जीएम डॉ.दीपक मुरारी ने इज ऑफ डुइंग बिजनेस (इओडीबी) को आगे बढ़ाने के लिए मिल कर कार्य करने की अपील की है। यूजर फीडबैक डाटा में सुधार के लिए यहां हुई कार्यशाला में अधिकारियों ने विचार विमर्श किया। बुधवार को कलक्ट्रेट सभागार में इज ऑफ डुइंग बिजनेस (इओडीबी) इज ऑफ लिविंग (इओएल) को लेकर कार्यशाला का आयोजन किया गया। उद्योग विभाग के जीएम ने बताया कि उद्योगों की स्थापना करने, सरकारी योजनाओं व औद्योगिक गतिविधियों को बढ़ाने के लिए पहले से ही एकल खिड़की व्यवस्था लागू की गई है। बताया कि उद्यमी को हर तरह की जानकारी मुहैया कराने के लिए ऑनलाइन व्यवस्था चल रही है। उन्होंने बताया कि जिले में औद्योगिक गतिविधियों को बढ़ाने के लिए सीएम मॉनिटरिंग कर रहे हैं। उन्होंने सभी विभागों से औद्योगिक गतिविधियों से संबंधित प्राप्त होने वाले आवेदनों का समय से निस्तारण करने की अपील की। कार्यशाला में इंवेस्ट उत्तराखंड और अपणु सरकार पोर्टल का प्रदर्शन किया गया। कन्सलटेंट अंकित द्विवेदी और देवऋषि पांडेय ने भी जानकारी दी। कार्यशाला में डीडीओ संतोष कुमार, सीओ विपिन चंद्र समेत तमाम विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!