कोरोना में मारे गए वन दरोगा की पत्नी को दें नौकरी

हल्द्वानी। कुमाऊं कमिश्नर दीपक रावत ने वन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोरोना के दौरान मारे गए वन दरोगा की पत्नी अनिता देवी को मृतक आश्रित कोटे से नौकरी दी जाए। इस दौरान उन्होंने तहसीलदार को मृतक आश्रित अनिता देवी को उत्तराधिकार प्रमाणपत्र, परिवार रजिस्टर व आवश्यक प्रमाणपत्र मुहैया कराने के निर्देश दिए। कमिश्नर रावत ने शनिवार को कैंप कार्यालय में लगे जनता दरबार में लोगों की समस्याएं सुनीं। ट्रांसपोर्ट नगर निवासी अनिता देवी ने बताया कि एक वर्ष पूर्व कोविड से उनके पति की मृत्य हो गई थी। उनके पति पूर्वी तराई वन विभाग में वन दरोगा थे। उन्होंने मंडलायुक्त से मृतक आश्रित कोटे में नौकरी दिए जाने की मांग की। इस पर कमिश्नर ने वन विभाग के अधिकारियों को दिशा-निर्देश जारी किए। जनता दरबार में द्रोण पब्लिक स्कूल प्रबंधन द्वारा कक्षा 8 में पढ़ने वाले पार्थिक जायसवाल को टीसी नहीं दिए जाने का मामला उठाया। इस पर कमिश्नर ने स्कूल की प्राधानाचार्य को बुलाकर टीसी देने के निर्देश दिए। भोटिया पड़ाव निवासी प्रभजोत कौर ने उनके घर के पास बिजली के झूलते तारों का मामला उठाया। इस पर कमिश्नर ने सिटी मजिस्ट्रेट को मौके का निरीक्षण कर रिपोर्ट देने को कहा। जनता दरबार में फरियादियों ने निजी स्कूलों के रिजल्ट न देने, पारिवारिक विवाद, अवैध कब्जा, राजस्व, सड़क, विद्युत, रोजगार, पेयजल भूमि, अतिक्रमण से जुड़ी 73 शिकायतें दर्ज कराईं। इस पर कई समस्याओं का मौके पर समाधान किया गया। शेष समस्याओं पर अधिकारियों को जल्द कार्यवाही करने के निर्देश दिए।


शेयर करें