कांग्रेस नेता की गिरफ्तारी को विद्युतकर्मियों ने किया धरना-प्रदर्शन

रुद्रपुर। विद्युतकर्मियों ने कांग्रेस नेता की गिरफ्तारी के लिए अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया है। उन्होंने आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी। इधर, एसडीएम और कोतवाल ने धरनास्थल पर पहुंच कर विद्युत कर्मियों को निपष्क्ष जांच का भरोसा दिलाया। विद्युत विभाग के एसडीओ ने बताया कि विद्युत अधिकारी-कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति की बैठक के बाद ही अंतिम निर्णय लिया जाएगा। बीते शनिवार को विद्युत विभाग के एसडीओ दिनेश चंद गुरुरानी ने पुलिस को तहरीर देकर आरोप लगाया था कि पूर्व दर्जा प्राप्त मंत्री गणेश उपाध्याय ने उनके ऊपर बिजली का बिल कम करने का दबाव बनाया। आरोप है कि विरोध करने पर उपाध्याय ने उनके साथ गाली-गलौज और अभद्रता की। इधर, पुलिस ने एसडीओ की तहरीर पर कांग्रेस नेता के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था। सोमवार को विद्युत अधिकारी-कर्मचारी संयुक्त संषर्घ समिति के जिलेभर से आए कर्मियों ने विद्युत कार्यालय में धरना-प्रदर्शन कर आरोपी की गिरफ्तारी की मांग की। वक्ताओं ने कहा कि यदि उपाध्याय की गिरफ्तारी नहीं की गई तो वे उग्र आंदोलन के लिए मजबूर होंगे। उधर, धरने पर बैठे एसडीओ गुरुरानी ने आरोप लगाया कि उपाध्याय ने उनके कार्यालय में आकर उसने अभद्रता की है। जो कि निंदनीय है। वहीं, सूचना पर एसडीएम कौस्तुभ मिश्रा और कोतवाल धीरेंद्र कुमार धरनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि पीड़ित की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। एसडीएम ने भरोसा दिलाया कि कानून अपना काम पूरी निष्पक्षता के साथ करेगा। एसडीएम के आश्वासन के बाद एसडीओ गुरुरानी ने बताया कि इस संबंध में अंतिम निर्णय विद्युत अधिकारी-कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति की बैठक के बाद ही लिया जाएगा। यहां एसडीओ विवेक उपाध्याय, राहुल कुमार, जेई कुलदीप कुमार सिंह, ओमकुमार, भुवन उप्रेती, चंद्रपाल सिंह, हेमचंद जोशी, प्रदीप खाती रहे।


शेयर करें