चित्रकला प्रतियोगिता के जरिये बताए आतिशबाजी के दुष्प्रभाव

देहरादून। दीपावली पर लोगों में आतिशबाजी के दुष्प्रभावों के प्रति सचेत करने के उद्देश्य से दून खुखरायरण बिरादरी समिति ने 14 वीं चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन पूर्वी पटेल नगर स्थित श्याम भवन में किया। शहर के विभिन्न स्कूलों के 224 बच्चों ने आतिशबाजी रहित दीपावली व आतिशबाजी का स्वच्छ भारत अभियान पर प्रभाव विषय को चित्रों से उकेर कर अपनी प्रतिभा को दर्शाया। कक्षा 4 से कक्षा 9 तक के बच्चों को तीन भागों में विभाजित किया गया। साथ ही बिरादरी के 10 वी एवम 12 वीं के इस वर्ष 90 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले बच्चों को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। तीनों ग्रुप में प्रथम स्थान विक्की कुमार, सांची गुलाटी, अश्लेस्ता कश्यप, दूसरा स्थान सृष्टि सिंह, मीनाक्षी मिश्रा, अंजलि, तृतीय स्थान राज वर्मा, वंशिका पाल, प्रिया एवम् सांत्वना पुरस्कार यश रोहेला, खुशबू रावत, अभिषेक को मिला। सभी को स्मृति चिन्ह एवम् प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। बिरादरी के मेधावी छात्रों ताशिव आनंद, अतीक्ष सूरी, मदन चड्ढा, हार्दिक आनन्द, कृष्ण आनंद, राघव साहनी, गौतम साहनी, वैशाली साहनी, माहिर आनंद वउनके माता पिता को भी स्मृति चिन्ह एवम् अंग वस्त्र भेंट कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महेंद्र भसीन को स्मृति चिह्न भेंटकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर समिति के प्रधान चंद्र मोहन आनन्द, सचिव अनिल भसीन, प्रचार मंत्री भूपेन्द्र चड्ढा, वेद प्रकाश सूरी, प्रवीण आनंद, योगेंद्र सूरी, राजेश साहनी, हरिओम साहनी, अनिल आनन्द, नीरज कोहली, राज कुमार मौजूद रहे। प्रतियोगिता में गुरु राम राय स्कूल, स्काई विंग स्कूल, दून सरला एकेडमी, रोज माउंट स्कूल, लक्ष्मण विद्यालय, हिंदू नेशनल इंटर कालेज आदि के बच्चों ने आतिशबाजी रहित दीपावली की सुंदर चित्रकला से पारितोषिक प्राप्त किया।


शेयर करें
error: Share this page as it is...!!!!