बैंकों के ताले तोड़ रहा नकाबपोश आया अल्मोड़ा पुलिस की पकड़ में

कैसीनो की लत ने बना दिया चोर

अल्मोड़ा। विगत दिनों जनपद के कोतवाली अल्मोड़ा, रानीखेत, थाना द्वाराहाट क्षेत्रान्तर्गत अज्ञात नकाबपोश द्वारा बैंको, पोस्ट आँफिस, बैंक एटीएम के ताले तोड़कर चोरी का प्रयास किया जा रहा था। लगातार हो रही घटनाओं के अनावरण को एसएसपी अल्मोड़ा रचिता जुयाल द्वारा क्षेत्राधिकारी अल्मोड़ा, रानीखेत, क्षेत्राधिकारी ऑपरेशन, प्रभारी निरीक्षक रानीखेत, थानाध्यक्ष द्वाराहाट व प्रभारी एएनटीएफ को मामले का अनावरण व अभियुक्त की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु सख्त निर्देश दिये गये थे।
क्षेत्राधिकारी अल्मोड़ा विमल प्रसाद, क्षेत्राधिकारी रानीखेत टी0आर0वर्मा व क्षेत्राधिकारी ऑपरेशन ओशिन जोशी के पर्यवेक्षण में चोरी का प्रयास करने वाले अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु टीमों का गठन कर आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये।
पुलिस टीमों द्वारा संदिग्ध चोर की गिरफ्तारी हेतु बैंकों, पोस्ट आँफिस,एटीएम व घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी कैमरों की गहनता से अवलोकन कर लगातार सुरागरसी-पतारसी कर जानकारी जुटाई जा रही थी। गुरुवार 04 मई को पुलिस चेकिंग के दौरान वलना तिराहे के पास एक स्कूटी संख्या-UK04 AA 2535 को रोकने का इशारा किया तो स्कूटी चालक घबराकर मुड़ने लगा तो पुलिस टीम ने तत्परता से रोक लिया। संदिग्ध प्रतीत होने पर तलाशी ली गई तो उसके बैग से प्लास, पेचकस, टार्च, हेक्सा ब्लेड, आयरन कटर आदि मिला। सख्ती से पूछताछ करने पर अभियुक्त ने अपना नाम नवीन सिंह बिष्ट पुत्र बचे सिंह बिष्ट निवासी कोटली पोस्ट दौलाघट अल्मोड़ा बताया और विगत दिनों जनपद के कोतवाली अल्मोड़ा, रानीखेत, थाना द्वाराहाट क्षेत्रान्तर्गत बैंको, पोस्ट ऑफिस, एटीएम के ताले तोड़कर चोरी का प्रयास करना स्वीकार किया। अभियुक्त को गिरफ्तार कर चोरी के दौरान प्रयुक्त की गई स्कूटी को सीज किया गया। स्कूटी पर लगे नंबर की जांच की गई तो नंबर फर्जी पाया गया, पंजीकृत अभियोगों में आवश्यक कार्यवाही की गई।
अभियुक्त ने पूछताछ में बताया कि वह भारतीय सेना बीआरओ में ट्रेड मैन पद पर है, कुछ महीनों पूर्व अवकाश पर आया और फिर वापस नहीं गया। कैसीनो की लत लग चुकी थी, जिसमें उसने काफी धनराशि गंवा दी थी, जिससे उसकी आर्थिक स्थिति काफी खराब हो गई और वह काफी कर्ज में भी डूब चुका था। आर्थिक तंगी के चलते उसने बैंक से भी लोन लिया हुआ था। कर्ज से निजात पाने के लिए उसने चोरी का रास्ता अपनाया, बैंकों, पोस्ट आँफिस, एटीएम के ताले तोड़कर चोरी का प्रयास करने लगा, जिसमें सफल नहीं हो पाया, आज भी चोरी करने के लिये आ रहा था, लेकिन पुलिस की पकड़ में आ गया।
यहाँ पुलिस टीम में वरिष्ठ उपनिरीक्षक सुनील बिष्ट कोतवाली रानीखेत, ताड़ीखेत चौकी प्रभारी कश्मीर सिंह, मजखाली चौकी प्रभारी मोहन सिंह सौन, एएनटीएफ प्रभारी सौरभ भारती सहित अन्य पुलिसकर्मी शामिल रहे।


शेयर करें