बगैर अनुमति चल रहा था मदरसा, भवन स्वामी का चालान

रुद्रपुर। बांग्लादेशी नागरिकों की तलाशी के लिए चलाए गए सत्यापन अभियान के दौरान पुलभट्टा पुलिस ने सिरौली क्षेत्र में बगैर अनुमति के संचालित मदरसे पर भवन स्वामी का पुलिस एक्ट में चालान किया गया। पुलभट्टा थाना इंचार्ज ने बताया कि इस संबंध में उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट भेजी जा रही है। वहीं 11 मकान मालिकों का भी दस-दस हजार रुपये का चालान किया गया। रविवार शाम पुलभट्टा थाना इंचार्ज कमलेश भट्ट की अगुवाई में पुलिस ने चार बीघा क्षेत्र सिरौली में अवैध रूप से रह रहे संदिग्ध बांग्लादेशी नागरिकों की तलाशी के लिए सत्यापन अभियान चलाया। इस दौरान सद्दाम गोटिया क्षेत्र में एक मदरसा बिना अनुमति के संचालित होता मिला। मदरसे में 194 बच्चे थे, जिनके लिए शौचालय आदि की सुविधा नहीं थी। आरोप है कि शिक्षकों का सत्यापन नहीं कराया गया था। मदरसे के प्रधानाध्यापक मुमताज नवी पुलिस टीम को कोई वैध दस्तावेज नहीं दिखा पाए। इस पर मदरसा भवन के स्वामी मो. जिलानी के खिलाफ पुलिस एक्ट में दस हजार रुपये का कोर्ट का चालान किया गया। पुलभट्टा थाना इंचार्ज ने बताया कि इस संबंध में एसएसपी के माध्यम से डीएम को रिपोर्ट भेजी जा रही है। इसके बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। इस अलावा पुलिस टीम ने किरायेदारों का सत्यापन नहीं कराने के आरोप में 11 मकान मालिकों का दस-दस हजार रुपये का चालान किया। पुलिस टीम में पुलभट्टा थाना इंचार्ज कमलेश भट्ट, एसआई कीर्ति भट्ट, सुरेंद्र सिंह रिंगवाल, हेड कांस्टेबल धर्मवीर सिंह, महेश चंद, कमल गोस्वामी, रवि कांत शुक्ला, कांस्टेबल ललित चौधरी, महेंद्र सिंह आदि रहे।


शेयर करें