छह घंटे के रेस्क्यू के बाद चालक को सकुशल बचाया

नई टिहरी(आरएनएस)।  ऋषिकेश-बदरीनाथ राजमार्ग पर पाली पुलिया के निकट एक ट्राला अनियंत्रित होकर अलकनंदा की ओर पलट गया। जिसमें चालक का आधा शरीर केबिन के नीचे दब गया। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस व एसडीआरएफ की टीम ने छह घंटे तक चले रेस्क्यू के बाद टीम ने ट्राला के नीचे दबे चालक को सकुशल बाहर निकाला। घायल चालक को उपचार के लिए बेस अस्पताल श्रीनगर में भर्ती कराया गया है। बीती रविवार शाम करीब सवा चार बजे गौचर से ऋषिकेश जा रहा एक ट्राला देवप्रयाग से 7 किमी आगे पाली पुलिया के पास अनियंत्रित होकर अलकनंदा की ओर खाई में पलट गया। जिसमें चालक दीपचंद पुत्र सुग्रीव निवासी सुंदरपुर खालसा, जहांगीरगंज जिला अंबेडकर नगर उप्र ट्राला के नीचे फंस गया। सूचना पर प्रभारी थानाध्यक्ष अनिरुद्ध मैठाणी पुलिस व एसडीआरएफ टीम के साथ मौके पर पहुंचे। रेलवे की निर्माण कंपनी एलएनटी कंपनी से पहुंची हाइड्रा मशीन व क्रेन भी चालक को नहीं निकाल पायी। जिस पर पुलिस, एसडीआरएफ व स्थानीय ग्रामीणों ने मिट्टी खोदकर चालक का आधा शरीर बाहर निकाला। जिसके बाद कटर से ट्राला के हिस्से को काटकर यहां फंसे चालक के पैर को किसी तरह बाहर निकाला गया। प्रभारी मैंठाणी ने बताया कि, चालक को श्रीनगर मे भर्ती किया गया है, वह हल्की बातचीत भी कर रहा है। रेस्क्यू अभियान में एसआई टीकम सिंह चौहान, एसआई योगेंद्र शर्मा, सिपाही अजीत सिंह, पिंटू दास, दारबान सिंह, होमगार्ड विपिन शाह, सुभाष सिंह आदि शामिल रहे।


शेयर करें